झुर्रियों से हैं परेशान तो करें कुछ ऐसे फेस योगा जिनसे त्वचा दिखेगी जवां

अपडेट किया गया: मार्च 4

बढ़ती उम्र और लापरवाही के चलते त्वचा पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं ऐसे में समझ नहीं आता है कि झुर्रियों को कैसे दूर किया जाए। महिलाएं अपनी त्वचा को लेकर काफी सजग होती हैं और वे झुर्रियों को दूर करने के लिए तमाम तरह के फैसपैक और बाजारू प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करती रहती हैं इसके बावजूद भी उन्हे इन झुर्रियों से छुटकारा नहीं मिल पाता है। चेहरे को निखार देने के लिए और झुर्रियों को दूर करने के लिए योगा भी काफी फायदेमंद नुस्खा है। योगा में भी कई ऐसे फेस योगा किए जा सकते हैं जिनसे त्वचा की झुर्रियां दूर की जा सकती हैं जानते हैं इन फेस योगा के बारे में-


फेफड़ों की परेशानी बताता है पीक फ्लो टेस्ट, दमा के रोगी कर सकते हैं इसका इस्तेमाल


अधोमुखश्वानासन करने का तरीका



- इसे करने के लिए अपने आसन पर वज्रासन की अवस्था में बैठ जाएं।

- अपने हाथों को इस तरह सामने की ओर रखें कि पीठ जमीन के समान्तर में हो।

-इसके बाद अपने पेल्विक एरिया को इस तरह से ऊपर उठाएं और छोड़े कि पहाड़ की तरह आकृति बने।

-इस अवस्था में तब तक रहें जब तक चेहरे पर खून के जमा होने का दबाव महसूस करते हो।

- यह आसन झुके हुए स्वान की तरह नजर आता है इसलिए इसे अधोमुखश्वनासन के नाम से जाना जाता है।

-इस अवस्था से बाहर आने के लिए अपने घुटनों को मोड़ते हुए सामान्य अवस्था में आ जाएं।


Queen Didda Rani: कश्मीर की महारानी दिद्दा, जिसने सुशासन के लिए मरवा दिए खुद के बेटे


हस्त उत्तानासन


-अपने आसन पर खड़े हो जाएं इसके बाद सीधें खड़े होकर सांस छोडें।

-इसके बाद एक ही सांस के साथ धीरे-धीरे अपने हाथों को जोड़ते हुए पीछे की ओर मुड़ते हुए उपर की ओर ले जाएं।

-कुछ समय के लिए इसी अवस्था में रहे इससे चेहरे पर ब्लड सर्कुलेशन बढ़ेगा।


पदानुष्ठान आसन



-पदानुष्ठान आसन को करने लिए अपने आसन पर सीधे खड़े हो जाएं।

-इसके बाद लंबी सांस लेते हुए अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाकर धीरे-धीरे नीचे की ओर ले जाएं और अपने पैरों के अंगठों को छूने की कोशिश करें। यदि पैरों के अंगूठों को नहीं छू पा रहे हो तो जहां तक झुकते बने वहीं तक झुकें।

-इसी अवस्था में कुछ देर के लिए रूकें इसके बाद सांस लेते हुए फिर से पहले जैसी अवस्था में आ जाएं।


धनुरासन


-यह आसन धनुष की तरह दिखाई देता है इसलिए इसे धनुरासन कहा जाता है।

-इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं।

-अब अपने पैरों को अपने हाथों से पकड़ें.

-अपने शरीर के छाती वाले हिस्से को ऊपर की ओर उठाएं।

-सांस को रोककर कुछ देर के लिए इसी मुद्रा में बने रहें इसके बाद सांस खींचते हुए सामान्य अवस्था में आ जाए।


शलभासन

-इस आसन को करने के लिए पहले अपने आसन पर पेट के बल लेट जाएं।

-अब अपने पैरो और हाथों को फैलाएं और सांस लेते हुए पैरों और हाथों को ऊपर की ओर उठाएं। ध्यान रहे अपने घुटनों को नहीं मोड़ना है।

-कुछ देर के लिए इसी अवस्था में रहे इससे चेहरे पर ब्लड सर्कुलेशन बढ़ेगा।

फेफड़ों की परेशानी बताता है पीक फ्लो टेस्ट, दमा के रोगी कर सकते हैं इसका इस्तेमाल


United States Capitol : अमेरिकी संसद भवन, जितनी सुंदर इमारत, उतना ही शानदार इतिहास, देखें Photo


बुध ग्रह कमजोर हैं तो शिक्षा और व्यापार पर होगा बुरा असर, जरूर आजमाएं ये उपाय