बारिश और सर्दी के मौसम में अक्सर संक्रामक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। बारिश के मौसम में पेयजय गंदा होने के कारण पीलिया भी अपने चरम पर पहुंच जाता है। दरअसल पीलिया कोई बीमारी नहीं होती है बल्कि यह बीमार होने का लक्षण है। पीलिया में शरीर के अंग, नाखून, आखें आदि पीले हो जाते हैं। पीलिया दरअसल हेपेटाइटिस संक्रमण है, जिससे कुछ सावधानियां बरतने पर रोका जा सकता है। आइए जानते हैं किन बातों का ध्यान रखकर पीलिया से बचा जा सकता है।  हेपेटाइटिस ए का संक्रमण है पीलिया पीलिया में जैसे कि हम जानते हैं शरीर में अंगों का रंग पीला होने लगता है। दरअसल यह हेपेटाइटिस ए का संक्रमण होता है। यह संक्रमण अपने आसपास के वातावरण में फैले प्रदूषण या गंदगी के कारण होता है। विशेषकर गंदे पानी के सेवन या पीने से ये सबसे जल्दी होता है। यह रोग होने पर बल्ड टेस्ट, मल की जांच और लीवर टेस्ट के जरिए भी पीलिया के बारे में पता लगाया जा सकता है।  पीलिया से बचने के लिए जरूर कराएं टीकाकरण हाल ही में कई शोध में यह खुलासा हुआ है कि पीलिया से बचने के लिए भी टीकाकरण का इस्तेमाल किया जा सकता है। देशभर में इसे लेकर इन दिनों जागरूकता भी फैलाई जा रही है। हर आदमी को इसके प्रति जागरूक भी किया जा रहा है।  शराब के सेवन से बचें पीलिया से बचने के लिए शराब के सेवन से जरूर बचना चाहिए क्योंकि शराब से सेवन से सीधा असर लिवर पर होता है। शराब यदि नियमित रूप से सेवन करते हैं तो लिवर कमजोर होने लगता है। अत्यधिक शराब के सेवन से लिवर की कोशिकाएं धीरे-धीरे मरने लगती है। यही कमजोरी बाद में हेपेटाइटिस ए या लिवर सिरोसिस के रूप में सामने आती है। शरीर का कोलेस्ट्रॉल लेवल रखें संतुलित जिन लोगों के शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल असंतुलित रहता है और LDL का स्तर बढ़ा होता है, उनमें भी पीलिया के संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है क्योंकि ऐसे लोगों को लिवर कमजोर जल्दी होता है। ऐसे में मौसमी बीमारियों का खतरा बढ़ने से संक्रमण का खतरा लगातार बना रहता है।  खानपान में इन बातों की रखें सावधानी पीलिया से बचने के लिए खानपान का विशेष ध्यान रखना होता है। कमजोर लिवर होने पर पीलिया का खतरा ज्यादा रहता है और कमजोर लिवर से पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है। ऐसे में हमेशा सुपाच्य भोजन का ही सेवन करना चाहिए। अपने आहार में फाइबर और प्रोटीन युक्त आहार ज्यादा मात्रा में लेना चाहिए। साथ ही वसायुक्त भोजन के सेवन से लिवर की कार्यक्षमता भी प्रभावित होती है। रोज धूप करने के साथ इन बातों की रखें सावधानी पीलिया से बचने के लिए रोज धूप का सेवन जरूर करना चाहिए। धूप का सेवन करने से शरीर में विटामिन डी की आपूर्ति होती है। पीलिया के रोगियों के लिए डॉक्टर भी धूप के सेवन करने की सलाह देते हैं। इसके अलावा इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि थोड़ी-थोड़ी शारीरिक परेशानी होने पर कैमिकल युक्त दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसी दवाओं में एस्टेराइड की मात्रा बहुत ज्यादा होती है, जिनका सेवन करना लिवर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। पीलिया से बचने के लिए कॉफी, लाल मिर्च, तंबाकू, बहुत अत्यधिक गरम मसाले या चाय आदि का असंतुलित सेवन भी नहीं करना चाहिए।


If you want to submit any news/article please write us at 

contact@amusingindia.com

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
  • Pinterest
  • Tumblr Social Icon
  • Instagram