Grah Nakshatra: इन ग्रहों से प्रभावित होते हैं व्यक्ति के कर्म, जरूर अपनाएं ये उपाय

अपडेट किया गया: मार्च 10

जीवन में उतार चढ़ाव स्वाभाविक है। व्यक्ति के कर्म भी उसके जीवन पर अच्छा या बुरा प्रभाव डालते हैं। कई बार न चाहते हुए भी व्यक्ति गलत दिशा की ओर आकर्षित होकर उस ओर जाने लगता है जिससे उसके जीवन में आपत्तियों की शुरूआत होने लगती हैं। गलत दिशा की ओर व्यक्ति क्यों भटकता है और इसका कुंडली में हुए ग्रहों के परिवर्तन से क्या संबंध है आइए जानते हैं-

कुंडली में इन ग्रहों से पड़ता है व्यक्ति के जीवन पर असर

कुंडली में शनि, राहु और केतु यह तीनों ग्रह पाप ग्रह के रूप में जाने जाते हैं। व्यक्ति को गलत कार्य की ओर यही पापी ग्रह ले जाते हैं। हालांकि यदि कुंडली में शुभ दशा होने पर यही पापी ग्रह काफी शुभ भी होते हैं। व्यक्ति को यही ग्रह शुभ दशा में पुण्य की ओर भी ले जाते हैं।


शनि के प्रभाव

जिन लोगों पर शनि का गलत प्रभाव पड़ता है तो ऐसे लोग किसी भी कार्य को करने में मन नहीं लगा पाते हैं। इसके विपरीत यदि शनि का प्रभाव अच्छा होता है तो व्यक्ति समाज के कल्याण करने की ओर अग्रसर होता है। व्यक्ति को जीवन पर शनि का बुरा प्रभाव पड़ने पर व्यक्ति आलसी और लापरवाह हो जाता है। इसके अलावा इंसान बुरे कर्म करने लगता है और सफाई से नहीं रहता है। शनि के शुभ दिशा में होने से व्यक्ति सही राह चुनता है साथ ही दूसरों को भी सही राह दिखाता है।

शनि ग्रह को ऐसे करें प्रसन्न

-शनि को प्रसन्न करने के लिए हर शनिवार शनि मंदिर में तेल चढाएं।

-शनिवार के दिन हनुमान जी की स्तुति करने से लाभ होता है।

-शनिवार को हनुमान मंदिर में दिया लगाने से भी शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

महाशिवरात्रि पर्व: नहीं सुनी होगी शिकारी चित्रभानु की ये कथा, शिव पुराण में ऐसा है जिक्र


राहु का जीवन पर असर


राहू शनि के बाद दूसरा सबसे प्रभावी ग्रह है जो व्यक्ति के जीवन पर बुरा असर डालता है। इसके बुरे प्रभाव के कारण ही व्यक्ति झूठ और छल कपट करता है। राहु कभी कभी शुभ भी हो सकता है। अशुभ दशा में राहु नशे की आदत का भी शिकार बना सकता है इसके साथ ही व्यक्ति के चरित्र हनन होने के पीछे भी राहु कारण हो सकता है। व्यक्ति राहु के कारण धर्म और आध्यात्म के विपरीत कार्य करता है। वहीं यदि राहु का प्रभाव शुभ होता है तो इस प्रभाव में जन्म लेने वाला व्यक्ति सिध्द हो सकता है और ऐसे व्यक्ति के पास कुछ अद्भुत चमत्कारी शक्तियां भी होती हैं। अच्छी दशा होने पर व्यक्ति आध्यात्म में रुचि लेने लगता है।


महाशिवरात्रि पर्व: नहीं सुनी होगी शिकारी चित्रभानु की ये कथा, शिव पुराण में ऐसा है जिक्र


राहु के लिए यह उपाय करें

-मरीजों और विकलांगों की सेवा करने से राहु की दशा अच्छी होगी।

-शिवजी की पूजा से भी राहु का प्रभाव अच्छा होता है।

-सात्विक आहार लेने से भी राहु का शुभ प्रभाव होता है।


केतु का जीवन पर प्रभाव

केतु ग्रह भी पाप ग्रह होने के कारण यह व्यक्ति को दिशा से भटकाने का कार्य करता है। इसके अशुभ प्रभाव के कारण व्यक्ति ईश्वर भक्ति से दूर रहता है। जीवन में किसी भी तरह की अटकले होने पर ईश्वर को ही जिम्मेदार मानता है। वहीं यदि केतु का प्रभाव अच्छा होता है तो व्यक्ति को आध्यात्मिक शक्तियां मिलती हैं। केतु की शुभ दशा से व्यक्ति तीर्थ यात्राएं करवाता है। इसके साथ ही व्यक्ति राहु के अच्छे प्रभाव से व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति होती है।


केतु के लिए यह करें उपाय

-केतु की दशा को अच्छा करने के लिए तीर्थ स्थलों पर जाना चाहिए और मंदिर के दर्शन करने चाहिए।

-रोज गणेश जी की उपासना करने से भी केतु का अच्छा प्रभाव होता है।



फेफड़ों की परेशानी बताता है पीक फ्लो टेस्ट, दमा के रोगी कर सकते हैं इसका इस्तेमाल


United States Capitol : अमेरिकी संसद भवन, जितनी सुंदर इमारत, उतना ही शानदार इतिहास, देखें Photo


बुध ग्रह कमजोर हैं तो शिक्षा और व्यापार पर होगा बुरा असर, जरूर आजमाएं ये उपाय